मां बेटे का सेक्सी

सेक्सी मूवी एमी

सेक्सी मूवी एमी, नहीं जीजाजी ... ललित बोला. ... कहीं कोई गड़बड़ ना हो जाये लगता है थोड़ा शरमा रहा था. पर बात जच गयी थी, सारे दिन वैसे ही लड़की बनके रहने की बात से लौंडा मस्त हो गया था. जैसे ही वो अन्दर आई, मैंने उसको बाहों में भर लिया और ताबड़ तोड़ उसके लबों पर चुम्मियों की बौछार कर दी।

और भैया अपने सारे कपड़े जल्दी-2 खोल रहे थे...मैं एक बार सिहर गई कि अगर श्याम की नींद खुल गई तो....भैया जब पूरे नंगे हो गए तो नीचे झुक मेरी चुची चूसने और मसलने लगे...मैं सिसक पड़ी दर्द और मस्ती में... बूर-लंड की मिली जुली पानी की खुशबू अब हम दोनों के अंदर तक जा रही थी..फर्क थी तो बस ये कि ना बूर मेरी थी और ना मुझे पेलने वाला लंड...दोनों अलग...और इसकी रोमांच तो आग में घी डालने का काम कर रही थी...

अब लीना जैसी अप्सरा ... बीवी हो तो ... आदमी बहुत कुछ ... सीख जाता है ... ललित ... पर जरा संभालना पड़ता है ... पटाखा है पटाखा ... कब फूट जाये पता भी नहीं चलता ... मैंने चोदते हुए कहा. सेक्सी मूवी एमी तभी मुझे अपनी भींगी चूत की तरफ ध्यान गई जिससे मुझे फ्रेश होने की जरूरत और बढ़ गई..सामने कहीं शौचालय नजर नहीं आ रही थी..सोची आगे बढ़ के देखती हूँ और मेरे पांव चल दिए...

पति और पत्नी की चुदाई

  1. अब वो धक्के नहीं लगा रहा था...मैं इतनी देर में दो बार पानी बहा चुकी थी...और मैं अपने हाथ उसके अण्डों पर रख खुद ही आगे पीछे हो रही थी...मेरी जीभ उसके सुपाड़े पर घिसती तो वह कराह उठता...तभी वो एक गहरी चीख के साथ दांत पीसते मेरे सर को झटक अपने लंड से दूर कर दिया...
  2. मैंने मैडम को बाँहों में भर लिया और उनके होटों को लगातार चुम्मियों से तर कर दिया और उनके गोल और सॉलिड मुम्मों को काफी देर सहलाया और चूसा। hrct स्कोअर किती असावा
  3. इस धुआँदार अटैक के कारण मधु एकदम से अकड़ी और फिर ढीली पड़ गई और मैं समझ गया कि मैडम का काम हो गया है। ओह सॉरी। आपके आने की खुशी में सब कुछ भूल ही गई थी। अच्छा अब जल्दी से फ्रेश हो जाओ, मैं नाश्ता तैयार कर रही हूँ। फिर ढेर सारी बातें करेंगे। पूजा भी सकपका के बोली।
  4. सेक्सी मूवी एमी...तभी उसने अपना हाथ आगे बढ़ा सीधे मेरी गर्दन पर रख दवाब बना दिए, जिससे मैं अगले ही पल औंधें मुँह उनके गोद में गिर पड़ी..जहाँ पहले से तैनात सिपाही से मैं टकरा गई... मैं कार में से निकला और उनको पिछली सीट पर बिठा दिया जहाँ कम्मो और निम्मो भी बैठी थी, उन दोनों के बैठ जाने के बाद अब कोई जगह नहीं बची थी तो मैंने कहा- आप लोग चलो, मैं पैदल आता हूँ!
  5. रूबी मैडम ने अपने साथ प्रैक्टिस के लिए कहा और मुझको अपने पीछे खड़े कर के मेरे आगे के हिस्से को उसकी कमर के साथ जोड़ कर डांस करने के स्टेप्स सिखाने लगी। कम्मो ने मुझको उसको घोड़ी बना कर चोदने का इशारा किया, मैंने बेड पर आते ही भाभी को घोड़ी बनने के लिए कहा और जब वो घोड़ी बन गई तो वो मुड़ मुड़ कर पीछे की तरफ देख रही थी, थोड़ी घबरा के बोली- यह क्या कर रहे हो सोमू?

कंडोम वापरण्याची पद्धत

रागिनी के ऊपर से हटते ही मैंने नंदा की चूत का निशाना बनाया और उसी तरीके से उसको भी चोद कर मैंने शीघ्र ही अपनी फतह का झंडा लहराया।

ललित को सीने से लगाकर वे बोलीं ललित राजा ... अरे अब तुझे ललिता कहने की आदत डालना पड़ेगी, अब मैं परसों आऊंगी, तब तक जो इश्क विश करना है, कर ले जीजाजी के साथ. ललित वहां आइने में खुद को निहारने में जुट गया था, बड़ा खुश नजर आ रहा था. शान्ताबाई लेटे लेटे ललित के सिर को पकड़कर अपनी चूत पर दबाये हुए थीं और मस्ती में गुनगुना रही थीं. बहुत अच्छे बेटे ... बहुत अच्छे मेरे लाल ... कितना प्यार से चाटता है राजा मेरी चूत को ... तेरी दीदी की याद आ गयी ... लीना बाई भी एक बार शुरू होती हैं तो घंटे घंटे सिर दिये रहती हैं मेरी टांगों में ...

सेक्सी मूवी एमी,नाड़ा खोलने के बाद भी उसने पेटीकोट को हाथ से पकड़े रखा और फिर चारों तरफ घूम कर देखा और फिर आहिस्ता से पेटीकोट को नीचे फिसलने दिया।

फिर दोनों एक साथ अपना-2 लंड पकड़ हम दोनों की बूर पर रख रगड़ने लगा...अपना लंड रगड़ते हुए वो काला आदमी पूछा,और तेरा क्या नाम है कुतिया..? मैं लंड की गरमी बूर पर पा आहें भरती हुई सीता बोली...

इतने में कम्मो दोनों नई लड़कियों को लेकर बैठक में आ गई और कहने लगी- दोनों ही अभी कुंवारी हैं और दोनों की सील ज़्यादा सख्त नहीं है। मैंने इनको पूरी बात समझा दी और बता दिया कि पहले छोटे मालिक उनके सामने जेनी और जस्सी के साथ करके दिखायेंगे उसके बाद वो फैसल लें कि यह काम उनको करवाना है या नहीं।सौतेली माँसेक्स

भाबी: उसकी फिकर ना करो वो नॉर्मल है... फ्यू अवर्स के बाद वो भी ख़तम हो जाये गी....इमॅजिन करो मेरी गुड़िया... अब तुम और में बे-फिकर हो कर सलमान से दिल भर कर चुदवा सकते हेँ.... वहाँ से घूम कर मैं फिर डांस रिहर्सल को देखने खड़ा हो गया। मैं जहाँ खड़ा था, वहाँ कुछ डांसर लड़कियाँ भी खड़ी थी और मैं उनके

मिसेज़ अग्रवाल भी जोक में कहां पीछे रहने वालीं थीं, कहने लगीं- बात उस समय की है जब मिसेज़ मलहोत्रा जनरल स्टोर्स को संभालती थीं। ग्राहक को खुश रखने का उन्हें काफी जोश था। एक बार एक ग्राहक आया। उसे निजी चीजें खरीदनी थीं। सबसे पहले उसने अच्छी ब्रेजियर मांगी…

स्खलित होने के बाद भी मैं उसपर पड़ा रहा, उसे छोड़ा नहीं, बस पटापट उसका सिर अपनी ओर घुमा घुमा कर चुम्मे लेता रहा. आधे घंटे में मेरा लंड फ़िर तन्ना कर उसकी चुदी हुई गांड में अपने आप उतर गया, और मैंने उसे फ़िर दूसरी बार चोद डाला.,सेक्सी मूवी एमी वो भी अपनी साड़ी उठा कर बैठ गई और कम्मो ने एक दो तीन कहा और दोनों ने भी अपने पेशाब की धार छोड़ दी और दोनों की धार भी काफी तेज़ी से निकली और मेरे काफी निकट तक आ गई।

News