தமிழ் அம்மா காம கதை

मां बेटी की चुदाई

मां बेटी की चुदाई, जगदीश राय: क्या करू बेटी।तेरी दीदी के पास दो दो छेद है।तो दोनों में पेल रहा हूँ।तू तो एक ही छेद दे रही है।इसलिए तेरी दीदी में ज्यादा टाइम लग रहा है। देवश : काकी मां आप तो जानती हो मेरी थोड़ी तबीयत ठीक नहीं थी थोड़ा बाहर आउट ऑफ स्टेशन निकाला हूँ कल तक आ जाऊंगा घर

जगदीश राय , उससे निशा से तुलना कर रहा था। एक जगह पर निशा थी जो अपने पापा के ख़ुशी के लिए कुछ भी कर जाती और दूसरे ओर यह पगली आशा जो उसे अपनी उँगलियों पे नचा रही थी। चोद ही तो रहा है दो घंटे से, अब और कैसे चोदेगा? तुझमे बहुत स्टॅमिना है विकी, मैं तो टीन बार झाड़ चुकी हूँ और टू एक बार भी नहीं.

ओर जगदीश राय के ऑखों के सामने , उसकी बेटी अपने गोलदार सुन्दर गांड के गालो को हाथो से फैलाकार, उसके 3 इंच मोटे और 9 इंच लंबे लंड पर गांड को उतार रही थी। मां बेटी की चुदाई रामू तेरा लंड तो तेरे भैया से कहीं ज़्यादा बड़ा है. सच तेरी बीवी बहुत ही किस्मत वाली होगी.एक लंबा मोटा लंड औरत को तृप्त कर देता है. तेरा तो….

एबी डिविलियर्स का फोटो

  1. रेहान (थोडा शर्माते हुए) : सच बोलू तो मैंने कल रात सभी को चोदा, नेहा, उसकी माँ और हिना को भी पर जितना मजा पूर्णिमा आंटी के साथ आया, उतना किसी के साथ भी नहीं आया...उनका एक्सपेरिएंस ही ऐसा है की वो सेक्स का पूरा मजा लेना जानती है और देना भी
  2. कॉन्स्टेबल्स : देखो तुम्हारे भेजे गये बड्ढे के टट्टू ने मुँह खोल डाला है और वो साफ कह रहे है की तुमने ऊन्हें सुपारी दी थी…क्या ये सच है? एक्स एक्स एक्स हॉट वीडियो
  3. उसने अपनी गर्दन पीछे करी और मेरे मुंह को अपनी छाती पर दबा दिया...मैंने अपने गीले होंठ और जीभ से उसके दाने को चुसना शुरू कर दिया...बड़ा ही मोटा दाना था उसका..मेरे चूसने से उसका सूट पारदर्शी सा हो गया और काले रंग का दाना चमकने लगा. और फिर जगदीश राय पूरी रफ़्तार से अपना लंड अंदर और अंदर पेलना शुरू करता हैं और तब तक नहीं रुकता जब तक उसका लंड निशा की गान्ड की गहराई में पूरा नहीं उतर जाता. निशा की हालत बहुत खराब थी. वो दर्द से उबर नहीं पा रही थी. करीब 5 मिनिट तक वो ऐसे ही अपना लंड को निशा के गान्ड में रहने देता हैं.
  4. मां बेटी की चुदाई...दीपा : बेटा मुझे गलत मत समझना...मुझे माफ़ कर दो...पर परिस्थितियां कुछ ऐसी बनती चली गयी की मैं नीचे वो सब....कर रही थी.... और उन्होंने अपनी आँखें झुका ली. जगदीश राय के लंड के सुपाडे को सशा अपनी चूत की दीवारो पर महसूस करके एक दम मस्त हो गई, और अपनी आँखें बंद किए हुए अपनी पहली चुदाई का मज़ा लेने लगी
  5. चूत रस का नमकीन स्वाद जगदीश राय मुंह में आ गया. करीब दो तीन मिनट तक वो यूं ही अपने पापा सिर को अपनी चूत पर जांघों से दबोचे रही फिर धीरे से पैर खोल दिए और चित लेट के गहरी गहरी साँसें लेने लगी. उसकी आँखों में साबुन था, इसलिए वो देख नहीं पा रही थी की साबुन कहाँ गिरा. वो नीचे पंजों के बल बैठ गयी और अपने हाथों से साबुन को ढूंढने लगी.. उसके इस तरह से बैठने से उसकी चौडी गांड फैलकर हमारी आँखों के सामने आ गयी, जिसे देखकर कोई भी पागल हो जाता..

अंग्रेजों की एक्स एक्स वीडियो

तूने तो खुद कितनों का एम एम एसे बनाया तेरे पीसी में एक एक वीडियो पुलिस जब चाहे तब देख सकती है….साहिल सिहं उठा उसके मुँह से कुछ निकल नहीं पा रहा था

मम्मी : वही....जो मैं दिखा रही हूँ....पर आप तो कुछ समझते ही नहीं....लल्लू कहीं के... और वो धीरे से हंसने लगी... निशा का पानी निकल चुका था, वो बेजान सी होकर पड़ गई, मगर जगदीश राय अभी कहाँ झड़ने वाले थे, वो तो मज़े से निशा की चुत चोदने में लगे हुए थे.

मां बेटी की चुदाई,जगदीश राय उससे बीच बीच में , कभी गालो तो कभी माथे पर किस देता रहा। हाथो से उसकी मुलायम गांड और चूचो को दबाता रहा। और निशा बीच में हाथ से लंड और टट्टो को अपने हाथो से मसाज कर देती।

बदले में ऋतू उनकी तरफ घूमी और पेंट में से उनका लंड पकड़कर उसे मसल दिया..वो चिल्ला पड़े..अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह मम्मी (घूमकर उनकी तरफ आई और बोली) क्या हुआ...?

फिर तो दादाजी ने चारपाई के पायों को भी बजवा दिया ...हर धक्के से चारपाई टूटने जैसी हालत में हो जाती थी... वो झुके और उन्होंने दुलारी के प्यारे और दुलारे मुम्मो को चूसा और लंड के धक्के मारकर उनकी चूत का बेंड बजाना शुरू रखा...जीजा साली की चुदाई दिखाओ

Doosri cheez tere bete ne jitni ladkiyo ke sath chudayi ki hai na sabka mms hai mere paas, mere ek ishare pe tera baat badnam tumhari izzat khatam अरुण: २४० वाला इसलिए लाया था क्यों की सब से बेस्ट था और मेरी माँ दुनिया की बेस्ट माँ है इसलिए उनके लिए सब चीज़ एकदम बेस्ट क्वालिटी की होनी चहिये।

मैने सच ही तो कहा है रेशू, मुझे उस शीतल पर अपने बेटे से ज़्यादा भरोसा क्यों होगा भला ? उसने ऐसा तथ्य पेश किया जिसमें ऋषभ के लिए विचारने लायक प्रश्न भी शामिल था.

आपको देखकर ही मैं समझ गयी थी...की आप बड़े चोदु किस्म के हैं....मेरी चूत में जब तक कोई लंड न जाए मुझे मजा नहीं आता, अब तो दीदी ने जब मुझे भी काम पर लगा दिया है तो मेरे मोहल्ले से मैं कोई लंड नहीं ले पाऊँगी...,मां बेटी की चुदाई अंजर : बॅस वो बहुत निहायती कमीना था साहेब पारा (एरिया) की हर औरत को ऊसने मोलेस्ट किया था साहबे मैंने उससे दोस्ती तोड़ी और उसके राशन के दुकान को फ्सी से बंद करवाया तो वो मेरे जान का प्यासा बन गया है

News