बीएफ वीडियो इंग्लिश पिक्चर

जिव लागला लागला लागला

जिव लागला लागला लागला, लेकीन नीलु के सामने वो यह नही बोल पाया की उसे कीसी भी सबजेक्ट मे परेशानी नही है। वह नीलू को ना नहीं बोलना चाहता था। अब नीलू को इंकार कर देना राहुल के बस में बिल्कुल भी नहीं था। इसलिए वह नीलू को हां कह दिया। लेकिन फिर बोला। भाभी चोद तो लिया लेकिन सिर्फ़ गान्ड मे ही चोद सका चूत मे लंड डाला ही था कि आप लोग आगये और मेरा काम वहीं रह गया लेकिन आज रात मैं उन्हे चूत मे भी चोदुन्गा इसलिए आपके पास जल्दी आगया मैं भाभी के बूब्स दबाते हुए बोला

मै भी ससुरजी से लिपटकर उनके होठों का मज़ा लेने लगी. ससुरजी का हाथ मेरी ब्लाउज़ मे कसी चूचियों को दबाने लगे और मेरे हाथ लुंगी मे उनके लन्ड पर चले गये. कुछ देर हम ससुर-बहु एक दूसरे के प्यार मे खोये रहे. किशन मेरी चूत मे अपना पूरा लन्ड डाले मेरे ऊपर लेटा रहा. मैने उसके नंगे बदन को जकड़कर अपनी चूत मे उसके लन्ड के सुखद अनुभव का मज़ा लेती रही.

नही भाई मैं नही थकि हूँ चलो बाते कर लेते है वैसे भी कल छुट्टी है तो मैने कौन सा जल्दी उठना है दीदी बोली जिव लागला लागला लागला उन सबके जाते ही सासुमाँ ने गुलाबी के हाथों मुझे बुला भेजा. मैं सासुमाँ के कमरे मे गयी तो देखी ससुरजी और सासुमाँ पलंग पर बैठे हुए बातें कर रहे हैं.

अनुष्का शर्मा का सेक्सी वीडियो

  1. हरामजादे तेरी इतनी हिम्मत( इतना कहकर जैसे ही अलका ने विनीत को मारने के लिए जैसे ही हाथ उठाए विनीत झट से उसकी कलाई को थाम लिया। और इतने गंदे शब्दों में उसे बोला कि वह अंदर ही अंदर शर्मिंदा हो गई वह डर के मारे उसका बदन कांप गया। वह अलका की कलाई पकड़ते हुए बोला।)
  2. मैने खुद ही अमोल को अपनी ओर खींचा और फिर उसके होठों को पीने लगी. इतने दिन उपवासी रहने के बाद एक मर्द का प्यार पाकर मैं पागल सी हो गयी थी. मेरी चुदास सर पर चढ़ चुकी थी. 25 நாளில் கர்ப்பம் தெரியுமா
  3. भैया मैं कोई दूर थोड़े ही ना जा रही हूँ यहाँ पास ही तो है मेरा घर जब भी तुम्हे मेरी याद आएगी वहाँ आ जाया करना और मैं भी हप्ते मे दो तीन बार आ जाया करूँगी, मुझे नही पता था कि मेरे छोटा भाई मुझसे इतना प्यार करता है और इतना उदास है मेरे लिए प्रिया दीदी मेरे सारे पर हाथ फेरते हुए बोली प्रीति लण्ड बाहर निकालकर बोली- मेरे मुँह में ही मूत लो। तुमने मेरा मूत पिया तो मैं भी तुम्हारा पियूंगी… और ऐसा बोलकर फिर से मेरा लण्ड मुँह में ले लिया।
  4. जिव लागला लागला लागला...गुलाबी ससुरजी के पास आ के बैठी तो उन्होने एक हाथ से उसके नंगी चूचियों को मसलना शुरु किया. गुलाबी मस्ती मे सिसकने लगी. सोनिया हँसते हुए- हाँ, भाभी… और मेरी ओर देखकर बोली- चलो आप मेरे कमरे में जाओ, मैं अभी चाची को देखकर आती हूँ…
  5. नही दीदी चॅलेंज ये था कि प्रीति दीदी जो जो करेगी वही आपको भी करना है और अभी तो बहुत कुच्छ बाकी है, ज़रा सबर तो करो मैं बोला और फिर प्रीति से बोला प्रीति दीदी प्ल्ज़ अब अपनी सलवार भी उतार दो ना प्ल्ज़ उधर बैठक मे तुम्हारे मामाजी कह रहे थे, चलिये अच्छा है, भाईसाहब. छोटे बेटे की जल्दी से शादी करा दीजिये. फिर सुख चैन की ज़िन्दगी गुज़ारिये.

త్రిబుల్ ఎక్స్ సెక్స్ వీడియోలు

मैने उठ कर देखा तो मेरा लंड जड़ तक दीदी की चूत मे घुसा हुआ था और उसपर थोड़ा खून भी लगा हुआ दिख रहा था 'शायद इसी की वजह से दीदी की दर्द हुआ था' मैने सोचा और घुटनो के बल बैठ गया दीदी ने भी अपनी टाँगे पूरी तरह उठा ली और मुझे उसकी चुदाई करने के लिए भरपूर जगह मिल गई

राहुल वैसे ही बैठ गया वीनीत की भाभी ने थोड़ा सा और अपनी गांड को सरका कर बिस्तर के किनारे पर रख दी और अपनी जाँघो को थोड़ा सा और फैला दी। वह हम देख लेंगे. सासुमाँ बोली, जैसा मैं कहूं वैसा ही करना. जब तु रामु से चुदवा रही होगी, मैं किसी बहाने बलराम को तेरे पास भेजुंगी. वह बखेड़ा खड़ा करेगा तो पूछुंगी कि जो आदमी अपनी माँ को रोज़ रात को चोद रहा है, उसे क्या हक बनता है अपनी पत्नी पर उंगली उठाने का.

जिव लागला लागला लागला,कुछ भी हो, हम सब को चुदाई मे काफ़ी सुविधा हो गयी. गुलाबी जब चाहे किशन, मेरे पति, या ससुरजी से चुदवा सकती थी. मैं जब चाहूं रामु, किशन, या ससुरजी से चुदवा सकती थी. सासुमाँ भी अपने बड़े बेटे और रामु से चुदवा सकती थी. पर मुझे एक बात खटक रही थी.

कुच्छ देर बाद जब रूपा दीदी होश मे आई तो वो दोबारा प्रीति दीदी के नीचे आ गई और उनकी चूत को चाटने लगी जिससे प्रीति दीदी और भी मस्त हो गई

तुम बिल्कुल भी चिंता मत करो राहुल इसमें पापा की तबीयत ठीक नहीं है इसलिए मैं उनसे तुम्हारे बारे में कोई भी जिक्र नहीं करना चाहती लेकिन मेरा यकीन मानो सब कुछ हालात ठीक होते ही मैं तुम्हारे बारे में पापा से बात करूंगी और मेरे पापा जरुर मेरी खुशी के लिए मान जाएंगे और मैं तुम्हारी ही दुल्हन बनुंगी।சன்னி லியோன் எக்ஸ் எக்ஸ் வீடியோ

मेरी नज़र तो उन दोनो पर ही थी इसलिये जैसे ही वह कमरे मे घुसे मैं तुरन्त दौड़ते हुए उनके पीछे जाकर उस कमरे के बाहर छुप कर देखने लगी कि आगे क्या होता है. विनीत की भाभी की सिसकारियां पूरे कमरे में गूंज रही थी और वह नीचे से अपनी गांड को उछाल उछाल के विनीत के लंड को अपनी बुर मे ले रही थी।

जो जो भी मैं प्रीति दीदी से करने को कहूँगा और वो वही करेगी तो क्या आप भी वो सब करोगी क्या मैं एक चाल और चलते हुए बोला

सब लोग बहुत अच्छे हैं! मैने कहा, पर तुम कहाँ हवा हो गये थे, रामु? सोनपुर से जो अपने गाँव गये, उसके बाद कोई खबर ही नही?,जिव लागला लागला लागला जब मैं पूरा वीर्य अपने मुंह मे ले ली, मैने गुलाबी के मुंह को पकड़कर जबरदस्ती खोला और अपने मुंह से अपना लार और किशन का वीर्य उसके मुंह मे गिरा दिया.

News